Facebook की नई पॉलिसी में भारतीय यूजर्स को छूट | Facebook ने अपने Users के लिए पॉलिसी अपडेट की |

दुनिया के नामचीन हस्तियों में शुमार मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) की कंपनी Facebook की प्राइवेसी पॉलिसी फिर एक बार चर्चाओं में है। प्राइवेसी पॉलिसीके आने से काफी बवाल मचता था । Facebook ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर एक बार फिर अपडेट करने का मन बनाया है। बीते गुरुवार को ही Facebook की ओर से बताया गया है कि कंपनी Messenger और Instagram के लिए अपने डेटा (Data) पॉलिसी को अपडेट करने जा रही है।

इस अपडेट के बाद Facebook users को पता चलेगा कि उनका पर्सनल डाटा कंपनी कब कैसे और किस वजह से यूज करती है। कंपनी ने यह भी बताया कि इस पॉलिसी का नाम प्राइवेसी पॉलिसी होगा जो 26 जुलाई से लागू हो जाएगी । हम भी आपको बताते हैं कि फेसबुक की प्राइवेसी पॉलिसी में क्या होगा । ज्यादा अच्छी तरीके से और साफ-साफ यह समझा पाएगा कि कंपनी यूजर का पर्सनल डाटा किस तरह से यूज करती है जैसे इसमें लोकेशन (location) रिलेटेड डिटेल्स मिलेगी । इंटरनल प्रोटोकॉल एड्रेस की भी जानकारी इसमें दी जाएगी । प्राइवेसी पॉलिसी के अलावा Facebook, Messenger और Instagram के team and service को भी यूजर्स की जरूरत के हिसाब से अपडेट किया गया ।

आपको बता दे हाल ही में America, Australia और India समेत कई यूरोपीय देशों की सरकारों ने Facebook की प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर विरोध जताया था और कड़े निर्देश भी दिए थे । भारत की सरकार ने भी फेसबुक को कड़े निर्देश देते हुए कहा था कि वह ऐसी प्राइवेसी पॉलिसी बिल्कुल ना बनाएं जिससे नागरिकों की प्राइवेसी पर जरा भी प्रभाव पड़े । इस वजह से Facebook ने गुरुवार को अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को लागू करने का ऐलान करते हुए कहा कि भारतीय यूजर्स के लिए फेसबुक की नई प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट (Accepted) करना अनिवार्य नहीं होगा । भारतीय Users चाहे तो नई प्राइवेसी पॉलिसी को स्वीकार कर सकते हैं और ना चाहे तो अस्वीकार भी कर सकते हैं और अस्वीकार करने की स्थिति में भी भारतीय यूजर्स को फेसबुक के किसी भी प्लेट फार्म को यूज करने में कोई दिक्कत नहीं आएगी । मतलब साफ है कि भले ही फेसबुक नई प्राइवेसी पॉलिसी लेकर आ रहा हो | लेकिन भारत में इस पॉलिसी को मानना या नामानना पूरी तरह Users के हाथ में होगा |

Exit mobile version