भारत छोड़ेगा तो पाकिस्तान ले लेगा, क्या आप जानते हैं उसकी मंशा?

3 Min Read
पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, अगर संयुक्त राष्ट्र द्वारा भारत नाम की मान्यता औपचारिक रूप से रद्द कर दी जाती है, तो पाकिस्तान भारत नाम पर दावा कर सकता है।

G20 बैठक से पहले राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू द्वारा भेजे गए डिनर कार्ड पर ‘इंडिया के राष्ट्रपति’ की जगह ‘भारत के राष्ट्रपति’ शब्द के इस्तेमाल से विवाद खड़ा हो गया है. इससे अटकलें लगाई जा रही हैं कि केंद्र सरकार भारत के संविधान से ‘इंडिया’ शब्द को हटाने के लिए संसद के विशेष सत्र के दौरान एक विधेयक पेश कर सकती है। यदि ‘इंडिया’ को संविधान से हटा दिया जाए, तो पाकिस्तान संभावित रूप से ‘इंडिया’ शब्द पर मजबूत दावा कर सकता है।

पाकिस्तान ने ऐतिहासिक रूप से दावा किया है कि ‘भारत’ सिंधु क्षेत्र को संदर्भित करता है। पाकिस्तान इस मामले पर भारत में चल रही बहस पर करीब से नजर रख रहा है और अगर संयुक्त राष्ट्र में ‘इंडिया’ नाम की आधिकारिक मान्यता रद्द कर दी जाती है, तो पाकिस्तान ‘इंडिया’ नाम पर अपना दावा ठोक सकता है.

- Advertisement -

रात्रिभोज के निमंत्रण पर ‘भारत का राष्ट्रपति’ शब्द लिखे जाने पर विवाद

डिनर कार्ड पर ‘भारत के राष्ट्रपति’ के इस्तेमाल पर विपक्ष ने आपत्ति जताई है, कुछ लोगों ने सुझाव दिया है कि मोदी सरकार विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ के बारे में चिंताओं के कारण देश का नाम बदलने का प्रयास कर रही है।

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में इस खबर की प्रामाणिकता की पुष्टि की, जिसमें राष्ट्रपति भवन से भेजे गए जी-20 शिखर सम्मेलन के डिनर कार्ड में विसंगति को उजागर किया गया, जिसमें ‘इंडिया के राष्ट्रपति’ के बजाय ‘भारत के राष्ट्रपति’ का उपयोग किया गया था।

- Advertisement -

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि क्या भारत के नाम में कोई वास्तविक परिवर्तन होगा या नहीं यह बहस और अटकलों का विषय है, और ऐसे किसी भी परिवर्तन के लिए महत्वपूर्ण कानूनी और संवैधानिक प्रक्रियाओं की आवश्यकता होगी।

G20 शिखर सम्मेलन 9 और 10 सितंबर को भारत में होगा

G-20 शिखर सम्मेलन वास्तव में एक महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रम है, और इसकी मेजबानी भारत द्वारा 9 से 10 सितंबर तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में की जा रही है। इस शिखर सम्मेलन में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन सहित कई देशों के नेता भाग ले रहे हैं। यह वैश्विक आर्थिक और राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा और सहयोग के लिए एक मंच प्रदान करता है।

- Advertisement -